पीएम नरेंद्र मोदी शपथ ग्रहण के पूर्व संभावित मंत्रियों से करेंगे चाय पर चर्चा

दमोह सांसद प्रहलाद पटेल के पास पहुचा PMO से फोन, समर्थको के साथ क्षेत्र वासियों में जबरदस्त उत्साह का माहौल

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में जबरजस्त जीत के बाद  जन नायक श्री नरेंद्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे है। राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शाम 7 बजे से होने वाले प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह की सभी तैयारियां पूरी हो गई है। श्री मोदी के साथ 50 से 60 सांसदों को मंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी। जिसमें भाजपा के अलावा सहयोगी दलों के भी सदस्य होंगे। मप्र से शपथ लेने वाले मंत्रियों में बुंदेलखंड व महाकौशल से दमोह सांसद प्रहलाद पटेल का नाम प्रमुख तौर पर उभर कर सामने आया है। जिससे क्षेत्रवासियों के साथ साथ भाजपाइयों ओर प्रहलाद पटेल समर्थकों में जबरदस्त उत्साह का माहौल बना हुआ है।

पार्टी की कमान अब कोई नया चेहरा सम्हालेगा क्योंकि सूत्रों का कहना है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंत्रिमंडल में शामिल होंने हामी भर दी है। वही मोदी शाह की टीम ने जिन सांसदों को मंत्रिमंडल में शामिल करने का निर्णय लिया है उनके पास PMO कार्यालय से चाय पर बुलावा भेजा गया है। शाम 4:30 बजे श्री नरेंद्र मोदी इनसे मुलाकात करके चर्चा करेंगे।

चाय पार्टी पर आमंत्रित संभावित केंद्रीय मंत्रियों में सबसे पहले राजनाथ सिंह, रवि शंकर प्रसाद, नितिन गडकरी, मुख्तार अब्बास नकवी, रवींद्रन, हरसिमरत कौर, रामदास आठवले अर्जुन राम मेघवाल, प्रकाश जावड़ेकर, सदानंद गौड़ा, आरके सिंह, नित्यानंद राय, बाबुल सुप्रियो, नरेंद्र सिंह तोमर  थावर चंद गहलोत प्रह्लाद सिंह पटेल, किशन रेड्डी, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, निर्मला सीता रमण आदिको  पीएम की चाय पार्टी का न्योता मिलने की जानकारी सामने आने से समर्थको में उत्साह का माहौल है।

पटेल समर्थको समेत अनेक नेतागण पहले से देहली पहुचे

मप्र के दमोह से दूसरी बार निर्वाचित पूर्व केंद्रीय मंत्री और पांचवी वार के सांसद प्रहलाद पटेल दमोह संसदीय क्षेत्र में शामिल बुंदेलखंड के 3 जिलों दमोह, सागर, छतरपुर का प्रतिनिधित्व करते हैं।व ही महाकौशल की राजनैतिक पृष्ठभूमि होने की वजह से इनको मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने से बुंदेलखंड तथा महाकौशल दोनों ही क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व हो जावेगा।

प्रधानमंत्री कार्यालय से श्री प्रहलाद पटेल के पास चाय पार्टी का कौन पहुंच गई समर्थकों में जबरदस्त उत्साह का माहौल है। श्री पटेल को मोदी मंत्रिमंडल में लिए जाने की संभावनाओं के चलते बड़ी संख्या में पार्टी नेता और समर्थक पहले ही दिल्ली पहुंच चुके हैं।

इस बार पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के सक्रिय राजनीति से दूर रहने की वजह से लोधी समाज के एकमात्र प्रतिनिधि के तौर पर भी श्री पटेल के उभरने से उनके नाम पर मोदी शाह की टीम के बीच सहमति बनने में ज्यादा समय नहीं लगा।

वही पीएमओ से फोन आने की सूचना वायरल होते ही स्थानीय स्तर पर भी  प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण के साथ मंत्री मंडल  की शपथ ग्रहण का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *