गुपचुप तरीके से चल रही निर्भया के दोषियों की फांसी की तैयारी, बस डेथ वारंट का इंतजार

निर्भया केस में तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद दोषियों को किसी भी दिन फांसी दी जा सकती है। खबर है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ((Tihar Jail)) अंदर खाने तैयारी कर रहा है और दया याचिका खारिज होने के बाद जैसे ही डेथ वारंट (Death Warrent) जारी होगा, चारों आरोपियों कों फांसी के फंदे पर चढ़ा दिया जाएगा। इस काम को अंजाम देने के लिए तिहाड़ जेल ने उत्तर प्रदेश पुलिस से दो जल्लाद भी मांगे हैं। इस बीच, चारों दोषियों को तिहाड़ की एक ही सेल में शिफ्ट कर दिया गया है। यहां उन पर 24 घंटे नजर रखी जा रही है और उनकी सेहत की जांच के लिए डॉक्टरों की एक टीम भी गठित कर दी गई है।

यूपी पुलिस के डीजी आनंद कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया है कि हमें 9 दिसंबर (सोमवार) को फैक्स के माध्यम से तिहाड़ जेल से एक अनुरोध पत्र मिला है, जिसमें यूपी के दो जल्लादों की सेवाएं मांगी गई हैं, क्योंकि उनके पास जल्लाद नहीं हैं। पत्र में दोषियों को फांसी दिए जाने का कोई उल्लेख नहीं किया गया है, लेकिन कहा गया है कि जरूरत पड़ सकती है।

तिहाड़ जेल के एक अधिकारी के हवाले से एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि बिहार में बक्सर की जेल से फांसी के 10 फंदे बुलवाए गए हैं। जल्लाद के लिए यूपी और अन्य प्रदेशों की जेल में सम्पर्क साधा गया है। साथ ही फांसी देने में काम आने वाले अन्य सामान को जुटाया जा रहा है। यह तैयारी की जा रही है, ताकि आदेश जारी हो तो तत्काल उसका पालन किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *