पीएम मोदी ने किए कल्‍याण सिंह के अंतिम दर्शन, बोले- प्रभु श्रीराम उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के कद्दावर नेता रहे कल्याण सिंह (Kalyan Singh) का शनिवार रात निधन हो गया। वे 89 वर्ष के थे और बीते दिनों से बीमार चल रहे थे। देश अपने लाड़ले नेता को अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि दे रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ पहुंचकर कल्याण सिंह के सरकारी आवास पर अंतिम दर्शन किए। श्रद्धासुमन अर्पित करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि कल्याण सिंह को प्रभु श्रीराम अपने श्रीचरणों में स्थान दें। कल्याण सिंह प्रतिबद्ध निर्णयकर्ता थे और जनकल्याण को ही उन्होंने अपना जीवन मंत्र बनाया। पीएम मोदी ने कहा कि कल्याण सिंह ने अपने नाम को सार्थक किया।इस दौरान पीएम मोदी कल्याण सिंह के परिवार से भी मिले और उन्हें ढांढस बंधाया। जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे, तो एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा मौजूद रहे। (नीचे देखिए तस्वीरें)

इस बीच, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और बसपा सुप्रीमो म मायावती ने कल्याण सिंह के निवास पर पहुंच कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। अंतिम संस्कार 23 अगस्त को किया जाएगा। यूपी के अतिरिक्त मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया, कल्याण सिंह का पार्थिव शरीर लखनऊ में उनके आवास पर है। फिर उन्हें विधानसभा ले जाया जाएगा जहां लोग दोपहर 1 बजे तक अंतिम दर्शन कर सकेंगे। इसके बाद पार्थिव शरीर को दोपहर 2:30 बजे तक भाजपा कार्यालय में रखा जाएगा। उसके बाद पार्थिव शरीर को अलीगढ़ ले जाया जाएगा जहां लोग स्टेडियम में अंतिम दर्शन कर सकेंगे। वहां से पार्थिव शरीर को अतरौली ले जाया जाएगा। उनका अंतिम संस्कार सोमवार को नरौरा में गंगा नदी के तट पर किया जाएगा।

#KalyanSingh: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, कल्याण सिंह को नेता कहूं या बड़ा भाई कहूं या मित्र कहूं यह फ़ैसला करना कठिन है। उनकी भूमिका ऐसी रही है कि ऐसा लगता था कि इसमें वह नेता हैं, इसमें बड़े भाई हैं और इसमें मित्र हैं। अब वह हमारे साथ नहीं है, मैं उनको श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

#KalyanSingh: कल्याण सिंह के निधन पर पीएम मोदी का ट्वीट

प्रधानमंत्री कल्याण सिंह के बहुत करीब थे। निधन की सूचना मिलने के बाद पीएम ने ट्वीट किया, ‘दुख की इस घड़ी में मेरे पास शब्द नहीं हैं। कल्याण सिंह जी जमीन से जुड़े बड़े राजनेता और कुशल प्रशासक होने के साथ-साथ एक महान व्यक्तित्व के स्वामी थे। उत्तर प्रदेश के विकास में उनका योगदान अमिट है। शोक की इस घड़ी में उनके परिजनों और समर्थकों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। ओम शांति! भारत की सांस्कृतिक विरासत को समृद्ध करने में कल्याण सिंह जी ने अहम भूमिका निभाई। देश की हर पीढ़ी इसके लिए उनकी आभारी रहेगी। भारतीय मूल्यों में वे रचे-बसे थे और अपनी सदियों पुरानी परंपरा को लेकर उन्हें गर्व था। कल्याण सिंह जी समाज के कमजोर और वंचित वर्ग के करोड़ों लोगों की आवाज थे। उन्होंने किसानों, युवाओं और महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए अनगिनत प्रयास किए। उनका समर्पण और सेवाभाव लोगों को हमेशा प्रेरित करता रहेगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *