भोपाल में खिली धूप, इंदौर, जबलपुर, होशंगाबाद संभागों में बारिश के आसार

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र वर्तमान में झारखंड के आसपास सक्रिय है। राजस्थान पर भी एक चक्रवात मौजूद है। इसके अतिरिक्त मानसून ट्रफ भी अभी मध्यप्रदेश से होकर गुजर रहा है। उधर बुधवार को राजधानी भोपाल में सुबह से आंशिक बादल बने हुए हैं, धूप खिली हुई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बुधवार को जबलपुर, होशंगाबाद और इंदौर संभागों के जिलों में कहीं-कहीं बारिश की संभावना है। भोपाल सहित अन्य जिलों में दोपहर के बाद छिटपुट बौछारें पड़ सकती हैं।

 

मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्‍ठ विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक खंडवा में 42, छिंदवाड़ा में 19.6, मंडला में 18, सिवनी में 13.6, बैतूल में 10.2, खजुराहो में आठ, नौगांव में 7.4, सतना में 6.8, ग्वालियर में छह, दमोह में पांच, रतलाम में चार, धार में 3.5, जबलपुर में 2.2, शाजापुर में एक, मलाजखंड में 0.8, उमरिया में 0.6, उज्जैन में 0.2, सागर में 0.2, होशंगाबाद में 0.1 मिलीमीटर बारिश हुई।

 

तीन वेदर सिस्टम सक्रिय
मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी के पश्चिम बंगाल कोस्ट पर कम दबाव का क्षेत्र आगे बढ़कर वर्तमान में झारखंड और उसके आसपास सक्रिय है। मप्र से लगे पूर्वी राजस्थान पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात भी मौजूद है। इसके अतिरिक्त मानसून ट्रफ जैसलमेर, कोटा, गुना, सीधी और रांची से होते हुए झारखंड पर बने कम दबाव के क्षेत्र तक बना हुआ है। झारखंड पर बने सिस्टम के आज आगे बढ़कर छत्तीसगढ़ तक पहुंचने की संभावना है। उसके प्रभाव से जबलपुर, होशंगाबाद और जबलपुर संभागों के जिलों में तेज बौछारें पड़ सकती हैं। शेष जिलों में धूप और बादल की आंखमिचोली चलती रहेगी। छिटपुट बौछारें पड़ने के आसार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *