Corona को लेकर और सख्त हुई सरकार, अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए 7 दिन का होम आइसोलेशन अनिवार्य

कोरोना की तीसरी लहर और नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने कोरोना के खतरे को कई गुना ज्यादा बढ़ा दिया है। इसकी वजह से केन्द्र सरकार लगातार स्थिति पर निगरानी रख रही है और सख्ती बरत रही है। इसी कड़ी में सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया गया है। नये दिशा-निर्देशों के मुताबिक विदेशों से आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को 7 दिनों तक अनिवार्य तौर पर होम आइसोलेशन में रहना होगा। 7 दिन होम आइसोलेशन में रहने के बाद 8वें दिन इन लोगों का RT-PCR टेस्ट किया जाएगा। ये नए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) 11 जनवरी से लेकर अगले आदेश तक लागू रहेंगे। दरअसल कोरोना के जितने मामले सामने आ रहे हैं उनमें ज्यादातर ऐसे लोग हैं जो हाल ही में विदेश की यात्रा कर लौटे हैं। ऐसे में कोरोना के मामलों पर ब्रेक लगाने के लिए सरकार की ओर से ये फैसला लिया गया है।

 

केन्द्र सरकार की ओर से जारी ताजा आदेश के मुताबिक यात्रियों को यात्रा शुरू करने से 72 घंटे के अंदर एक कोरोना नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट भी अपलोड करनी होगी। इसके अलावा भारत आने पर जिन लोगों को टेस्ट की जरूरत हैं, पोर्टल पर टेस्ट की ऑनलाइन प्री बुकिंग भी करनी होगी. भारत की यात्रा करने की योजना बना रहे सभी लोगों को पहले ऑनलाइन एयर सुविधा पोर्टल पर सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्म में पूरी और तथ्यात्मक जानकारी देनी होगी। इसके अलावा केन्द्र सरकार ने उन देशों की नई लिस्ट भी जारी की है, जहां से आनेवाले यात्रियों को ‘खतरे’ की श्रेणी में रखा गया है। इन देशों से आने वाले यात्रियों को पहुंचते ही RT-PCR टेस्ट कराना होगा और अतिरिक्त नियमों का पालन करना होगा।

 

देश में कोरोना के हर रोज डराने वाले आंकड़े सामने आ रहे हैं। 24 घंटों के अंदर 1 लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं, साथ ही 300 कोरोना मरीजों की मौत हो गई है। इससे पहले 6 जून को भी देश में कोरोना के 1 लाख से ज्यादा मामले सामने आए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *