फिलहाल सस्ता नहीं होगा कर्ज, आरबीआई ने दरों में नहीं किया कोई बदलाव

भारतीय रिजर्व बैंक की पहली मौद्रिक नीति समिति के नतीजों की घोषणा हो गई है। आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। दास ने कहा कि रेपो रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4% रहेगा। एमएसएफ रेट और बैंक रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4.25% रहेगा। रिवर्स रेपो रेट भी बिना किसी बदलाव के साथ 3.35% रहेगा।

गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि वित्त वर्ष 2022-23 के लिए रियल जीडीपी ग्रोथ 7.8% रहने का अनुमान है। उन्होंने कहा, भारत दुनिया के बाकी हिस्सों से उबरने के एक अलग रास्ते पर चल रहा है। आईएमएफ के अनुमानों के अनुसार देश अर्थव्यवस्थाओं में साल-दर-साल सबसे तेज गति से बढ़ने की ओर अग्रसर है।

आरबीआई गवर्नर ने कहा कि वित्त वर्ष 2022 मे महंगाई दर 5.3 फीसद रहने का अनुमान है। चौथी तिमाही में 4.5 फीसदी रहने का अनुमान है। वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 4.9 फीसदी, दूसरी तिमाही में 5 फीसद, तीसरी तिमाही में 4 फीसदी और चौथी तिमाही में महंगाई दर 4.2 फीसदी रहने का अनुमान है।